Report Abuse

Blog Archive

Labels

Labels

Try

Widget Recent Post No.

Pages

Blogroll

About

Skip to main content
Showing posts from September, 2018

What is Pratyahara | प्रत्याहार क्या हैं??

Pratyahara | प्रत्याहार :-- प्रत्याहार पतंजलि कृत योगसूत्र के अनुसार योग के पांचवें अंग के रूप में आता है। प्रत्याहार क्या है :- प्रत्याहार का अर्थ होता है बाह्यवृत्तियों को रोक कर आपने चित्त को अपने ध्येय में लगाना प्रत्याहार हैं। स्वविषयासम्प्रयोगे चित्तस्वरूपनुकार इवेन्द्र…

paranayama different types | प्राणायाम के प्रकार अष्टांगयोग मे |

Paranayama different types प्राणायाम :--   अष्टांगयोग मे योग की चर्चा करते हुए हमने अध्यन किया यम, नियम, आसान के बारे में अब हम अष्टांग योग के चौथे अंग प्राणायाम के परिचय पर चर्चा करेंगे। प्राणायाम के अभ्यास से चित्त को नियंत्रित किया जा सकता है, जैसा कि हठ प्रदीपिका मे भी कह…

यूजीसी नेट 2018|UGC NET 2018 | NET exam by NTA

यूजीसी नेट 2018 : यूजीसी राष्ट्रीय पात्रता परीक्षा के लिए पंजीकरण प्रक्रिया राष्ट्रीय परीक्षण एजेंसी (एनटीए) की आधिकारिक वेबसाइट, भारत में उच्च शैक्षिक प्रतिस्पर्धी परीक्षाओं के लिए प्राधिकृत नवगठित परीक्षा आयोजित करने वाली आधिकारिक वेबसाइट पर शुरू हुई है। उम्मीदवार जो इस साल दिसंब…

अष्टांगयोग का तीसरा अंग आसन |

अष्टांगयोग का तीसरा अंग आसन महर्षि पतंजलि ने योगसूत्र के अष्टांग योग में योग के आठ अङ्गों का वर्णन करते हुए योग को विस्तृत रूप में वर्णन किया है। पहले के पोस्ट पढ़ने के लिए  इन पोस्ट को पढ़े। अब यहां आसन के बारे में सूक्ष्म एवम संक्षेप वर्णन दे रहे है। यह संस्कृत के अस धातु से बना है,…